Home Uncategorized विपक्षी दल की बैठक में ममता बनर्जी ने अहमद पटेल से की...

विपक्षी दल की बैठक में ममता बनर्जी ने अहमद पटेल से की मुलाकात

Lok Sabha Elections 2019: Mamta Banerjee meets Ahmed Patel in the opposition party's meeting

लोकसभा चुनाव 2019 के लिए विपक्षी दलों के नेता गठबंधन और ‘न्यूनतम साझा कार्यक्रम’ तय करने के लिए आज बुधवार के दिन हुई बैठक से पहले कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल और बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने विपक्षी दलों के नेताओं की मीटिंग से पहले मुलाकात की। विपक्षी दलों की नेताओं की ये बैठक संसद के एनेक्सी में होगी, जहां भाजपा को मात देने के लिए विपक्षी दल सामूहिक रणनीति बनाएंगे। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से लेकर टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी और टीडीपी अध्यक्ष चंद्रबाबू नायडू सहित तमाम विपक्षी नेता हिस्सा लेंगे।

आपके लिए यह जानना जरूरी है कि लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाले एनडीए को शिकस्त देने के लिए विपक्षी दल एकजुट होने की कवायद हो रही है। कांग्रेस सहित विपक्षी नेताओं की पिछली बैठक एनसीपी प्रमुख शरद पवार के दिल्ली आवास पर 13 फरवरी को हुई थी।

इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू और नेशनल कॉन्फ्रेंस के नेता फारूक अब्दुल्ला शामिल थे। इन नेताओं के बीच न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाने पर सहमति बनी थी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने इससे पहले विपक्षी दलों के एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम का प्रस्ताव और भाजपा को हराने के लिए गठबंधन बनाने की बात कही थी।

2019 के लोकसभा चुनाव के लिए उत्तर प्रदेश में सपा-बसपा ने गठबंधन किया है। कांग्रेस ने कुछ छोटे दलों को मिलाकर चुनावी मैदान में उतरने की रणनीति बनाई है। हालांकि बिहार में कांग्रेस ने आरजेडी सहित तमाम दलों के साथ गठबंधन किया। सपा और बसपा ने पड़ोसी राज्य मध्यप्रदेश और उत्तराखंड में भी गठबंधन कर लोकसभा चुनाव लड़ने का ऐलान किया है। मध्यप्रदेश में सपा तीन सीटों पर और बसपा 26 सीटों पर प्रत्याशी उतारेगी। वहीं, उत्तराखंड में सपा के खाते में एक सीट आई है। चार सीट पर बसपा अपने प्रत्याशी उतारेगी।

इसके अलावा महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी एक साथ हैं तो तमिलनाडु में कांग्रेस-डीएमके ने हाथ मिलाया है। लेकिन हरियाणा, दिल्ली, पश्चिम बंगाल, तेलंगाना और आंध्र प्रदेश जैसे कई राज्य हैं, जहां विपक्षी दलों के बीच कोई गठबंधन नहीं है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Whenever you are internet dating two males immediately, you have to discover, the relating to a relationship!

Whenever you are internet dating two males immediately, you have to discover, the relating to a relationship! Relationships can be so a great deal of...

?Que son las pi?ginas sociales asi­ como para que sirven en la red?

?Que son las pi?ginas sociales asi­ como para que sirven en la red? En las ultimos tiempos, la tecnologia ha avanzado a consejos agigantados, lo...

Directly below may finest tips for women working to make a guy depart his or her sweetheart.

Directly below may finest tips for women working to make a guy depart his or her sweetheart. Will you be crazy about some guy exactly...

Indications of a separate partnership sionate union? Whenever we look at pa

Indications of a separate partnership sionate union? Whenever we look at pa Are you currently in a separate relationship? As soon as we remember interest,...

Recent Comments